Designed by Amazon Customer Service | Customer Care No. And Full Information In हिंदी एंड English - TechnicalRakesh.In | Mobile Tips, Internet And Technology Info.

Follow Me

Wednesday, February 5, 2020

Technical Rakesh

Amazon Customer Service | Customer Care No. And Full Information In हिंदी एंड English

  
Amazon Customer Service, Toll Free Mobile Number For 24 Hour, Amazon Customer Care Number Email Helpline and Much More।

अमेज़न ग्राहक सेवा, टोल फ्री मोबाइल नंबर  24 घंटे, अमेज़न ग्राहक सेवा नंबर ईमेल हेल्पलाइन और बहुत कुछ।



Amazon.in Toll Free Number
1800-3000-9009

The Good News Is That The Answer Is Yes, They Do. Amazon Customer  Service Phone Number Is 1888-280-4331. And You Can Call That Number 24 Hours A Day

Please Send Email All Help Camplaint And Any Query 
cs-reply@amazon.com

For Issues With Your Account, Such As A Billing Dispute,  You Should Email
cis@amazon.com

Amazon Customer Service
For any enquiry and complain
0800496 2449

Contact To This Social Site Link
Facebook - facebook.com/amazon
Instagram - Instagram.com/amazon
Twitter -      twitter.com/amazon

Amazon Custome Service

यदि आप ऐसा सोचते हैं कि हमें अमेजॉन कंपनी की तरफ से खुद ही कॉल आए। और हमारी समस्या का समाधान किया जाए तो इसके लिए आप नीचे दिए हुए तरीके पर चलकर ऐसा कर सकते हैं।नीचे आसान तरीका दिया हुआ है जिसमें एक वेबसाइट का लिंक है जो कि ऐमेज़ॉन की ऑफिशियल वेबसाइट है इस वेबसाइट पर जाने के बाद कुछ इस तरह का पेज देखने को मिलेगा नीचे इस इमेज को देख सकते
In English==
If You Think That we get calls from Amazon company itself.  And to solve our problem, for this you can do this by following the method given below. Below is the easy way in which there is a link to a website which is the official website of Amazon, after visiting this website, something like this  You can see this page, you can see this image below.



नीचे दिए हुए इस लिंक पर क्लिक करना होगा।
उसके बाद स्टेप को फॉलो करें अपना प्रोडक्ट सेलेक्ट करें जिस प्रोडक्ट से रिलेटेड आपको जानकारी चाहिए उसके बाद आपको फाइनल में जाकर ऐसा पेज मिलेगा आप अपना मोबाइल नंबर डालें जिस नंबर पर आप अमेजॉन कस्टमर केयर की कॉल मंगाना चाहते हैं उसके बाद आपको पांच से 10 सेकंड में अमेज़न कस्टमर केयर की कॉल आ जाएगी यह एक आसान और अच्छा तरीका है।
In English==
You Have Click on this link below,
https://www.amazon.in/gp/aw/contact

Than Follow the step, select your product, the product related to which you need information, after that you will go to the final page and enter your mobile number, on which number you call Amazon Customer Care  If you want to order, after that you will get a call from Amazon Customer Care in five to 10 seconds, this is an easy and good way.



आइए जानते हैं अमेजॉन कंपनी से जुड़े कुछ बातें कैसे शुरू हुई अमेजॉन कंपनी?
Let's know how some things related to the Amazon company started.

आपने Amazon कंपनी का नाम तो सुना ही होगा ऑनलाइन शॉपिंग के नाम से मशहूर कंपनी। जिसके मालिक जैफ बेजोस है । 1994 में इन्होंने सिएटल में अपने गैराज में Amazon की स्थापना की थी।  इसे उन्होंने ऑनलाइन बुक स्टोर के रूप में शुरू किया तब इसे उन्होंने कैडबरा नाम दिया, लेकिन बाद में दक्षिण अमेरिकी नदी Amazon पर इसका नामकरण किया । फिर अन्य उत्पाद बेचते हुए आगे बढ़े, इसे विश्व की सबसे बड़ी ऑनलाइन रिटेल कंपनी बनाया, और  जेफ बजोस दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति बने।

You must have heard the name of Amazon company, a company known as online shopping.  Owned by Jeff Bezos
In 1994, he founded Amazon in his garage in Seattle.  He started it as an online book store He then named it Cadabra, but later named it on the South American river Amazon.  Others then went on to sell products, making it the world's largest online retail company, and Jeff Bajos the world's richest person.

इन्हें भी देखें।👉🏼👉🏼👉🏼👉🏼👉🏼👉🏼
App Lock लगने के बाद File कैसे देखें ।
Speed Post Tracking |Mobile Se स्पीड पोस्ट ट्रैक करे
Adhar कार्ड Pan कार्ड लिंक स्टेटस देखे किसी का भी ।
Adhar कार्ड से पैन कार्ड कैसे लिंक करे ऑनलाइन
Samsung Hindi Fact, सैमसंग से जुड़ी कुछ अनसुनी बातें
Xiaomi Mi Note 10 Price In India ।


आखिर किस बात ने जेफ बेज़ोस उसका नजरिया बदल दिया
साल 2010 में प्रिंसटन यूनिवर्सिटी में उन्होंने एक  भाषण दिया था, जिसमें उन्होंने अपने कार्य के बारे में वहां के छात्रों को बताया था । अमेजन की शुरुआत कैसे हुई थी और कैसे Amazon दुनिया की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी बन गई।
उन्होंने अपने बचपन का एक किस्सा सुनाया था,  जेफ बेजोस उस वक्त 10 साल के थे, जब वो अपने दादा-दादी के साथ एक Car Trip पर गए थे। उस दौरान उन्होंने इंसान की जिंदगी पर तंबाकू के असर का लेखा-जोखा किया ।
Jafe Bajos ने कहा, मेरे दादा अच्छे इंसान थे "वो एक बुद्धिमान और शांत व्यक्ति थे। उन्होंने कभी मुझे नहीं डांटा था, लेकिन शायद यह पहली बार था जब उन्होंने मुझे फटकार लगाई थी और वो चाहते थे कि मैं अपनी दादी से माफी मांगू लू । मेरे दादा जी ने मेरी ओर देखा और देर बाद प्यार से कहा- जेफ एक दिन तुम यह समझ जाओगे कि विनम्र होना, बुद्धिमान होने से कई गुना कठिन है।" जेफ बेजोस तब से यह भूल नहीं पाए हैं , कि हर फैसले की अपनी अहमियत होती है।

After all, what changed Jeff Bezos' perspective?
In 2010, he gave a speech at Princeton University, in which he told his students about his work.  How Amazon was started and how Amazon became the largest e-commerce company in the world.
  He told an anecdote of his childhood, Jeff Bezos was 10 years old when he went on a Car Trip with his grandparents.  During that time, he analyzed the effect of tobacco on human life.
Jafe Bajos said, My grandfather was a good man "He was a wise and quiet man. He never scolded me, but this was probably the first time he had reprimanded me and wanted me to apologize to my grandmother."  . My grandfather looked at me and later said lovingly - Jeff one day you will understand that being humble is a lot harder than being intelligent. "  Jeff Bezos has not been able to forget that every decision has its own importance.


जेफ बेजोस का कठिन फैसला
1964 में जन्में जेफ बेजोस पढ़ाई में तेज अच्छे थे, और अपने दोस्तों और सहकर्मियों की तरह उन्होंने नौकरी की शुरुआत मैकडोनल्ड्स से की थी। न्यू जर्सी के प्रिंसटन यूनिवर्सिटी से कंप्यूटर साइंस और इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन करने के  आठ साल बाद वो डीई शॉ एंड कंपनी के वाइस प्रेसिडेंट बन गए ।
डीई एंड शॉ एक वॉल स्ट्रीट इवेंस्टमेंट बैंक है, जहां से उन्होंने रिजाइन करके Amazon की शुरुआत की थी। 2010 में प्रिंसटन यूनिवर्सिटी में अपने भाषण में उन्होंने कहा था कि Internet की पहुंच तेजी से बढ़ रही थी। और मैंने एक ऑनलाइन बुकस्टोर खोलने का फैसला किया, जहां कई हजार किताबें होगी।

Jeff Bezos's tough decision
Born in 1964, Jeff Bezos was sharp in studies, and like his friends and colleagues, he started his job with McDonald.  Eight years after graduating in computer science and electrical engineering from Princeton University in New Jersey, he became Vice President of Dee Shaw & Company.
Dee & Shaw is a Wall Street investment bank from where he designed and started Amazon.  In his speech at Princeton University in 2010, he stated that the reach of the Internet was growing rapidly.  And I decided to open an online bookstore, where there would be several thousand books.



पहले नाम नहीं था Amazon
जेफ ने सबसे पहले कंपनी का नाम Amazon नहीं सोचा था।
वो आबरा का डाबरा नाम से इतने आकर्षित थे, कि कंपनी का नाम Cadabara रखना चाहते थे
और यह भी कहा जाता है कि इन्होंने अपनी कंपनी का नाम कुछ समय तक यहीं रखा है और उसके बाद इनके दिमाग में Amazon नाम आया तुम की Amazon नदी और इसका जंगल दोनों ही विशाल है जो कि पूरी दुनिया में मशहूर है उसी तरह अपनी कंपनी को विशाल और बहुत ही बड़ा बनाने के मकसद से इन्होंने अपनी कंपनी का नाम Amazon रखा था ।

Amazon was not the first name
Jeff did not first think of the company's name as Amazon.
  He was so attracted by the name of Dabra of Abra, that he wanted to name the company Cadabara.
And it is also said that he has named his company here for some time and after that, the name of Amazon came to his mind is that both the Amazon river and its forest is huge which is famous all over the world.  In order to make it huge and very big, he named his company Amazon.


सपने को था पूरा करना
जेफ बेजोस ने कहा, "मैं अपना जॉब छोड़ना चाहता था और कुछ अलग करना चाहता था। मेरे एक बॉस थे, जिन्हें मैं काफी मानता था।
मेरी पत्नी मुझे प्रोत्साहित करती थी और वो चाहती थी कि मैं अपने सपने को पूरा करूं।
मैंने अपने बॉस कि अपने आइडिया के बारे में बताया। उन्होंने कहा यह सही है पर यह उनके लिए है, जिनके पास कोई काम नहीं है। उन्होंने कहा कि मेरे पास अच्छी नौकरी है
इस बात पर मैंने बहुत सोचा और काफी सोचने के बाद मैंने फैसला किया कि मुझे अपने सपने को पूरा करना चाहिए क्योंकि मैं इस बात पर पछतावा नहीं करना चाहता था कि मैंने प्रयास नहीं किया, लेकिन अगर मैं प्रयास ही नहीं करता तो मुझे पछतावा जरूर होगा।
और मुझे अपने फैसले पर गर्व है।" नई कंपनी की शुरुआत के लिए जेफ के मां-बाप ने अपनी सारी जमा पूंजी उन्हें दी ।
25 साल बाद आज Amazon का नाम पूरी दुनिया में मशहूर है।

Make the dream come true
Jeff Bezos said, "I wanted to quit my job and do something different. I had a boss I believed in a lot."
My wife used to encourage me and wanted me to fulfill my dream.
  I told my boss about his idea.  He said it is right but it is for those who have no work.  They said i had a good job
I thought about it a lot and after much thought I decided that I should fulfill my dream because I did not want to regret that I did not try, but if I do not try, I will regret it  .
And I'm proud of my decision. "Jeff's parents gave him all of their accumulated capital to start the new company.
Today, 25 years later, the name of Amazon is famous all over the world.


अगर पोस्ट अगर आपको पसंद आए तो हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं और अपने सभी दोस्तों में ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।मिलते है फिर से एक नए इंटरेस्टिंग पोस्ट के साथ

If You like THE POST, then let us know in the comment box and share it as much as possible among all your friends. See you again with a new interesting post

Technical Rakesh

About Technical Rakesh -

Author- My Name Is Rakesh Prajapati. I Service In The Armed Force And I Like To Write Blogs Related To Mobile And Internet From Time To Time. मैं भविष्य में भी आपके लिए ऐसी ही जानकारियां लाता रहूँगा. Thanks For Visit.

Subscribe to this Blog via Email :